Breaking News
Home / Recent / गोंडा मसकनवा आभा विकास संस्थान के तत्वाधान में तीन दिवसीय जिला स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी और विज्ञान मेला का हुआ आयोजन।

गोंडा मसकनवा आभा विकास संस्थान के तत्वाधान में तीन दिवसीय जिला स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी और विज्ञान मेला का हुआ आयोजन।

गोंडा मसकनवा आभा विकास संस्थान के तत्वाधान में तीन दिवसीय जिला स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी और विज्ञान मेला का हुआ आयोजन

श्याम बाबू कमल गोंडा

गोण्डा:-मां गायत्री रामसुख पांडेय पीजी कालेज मसकनवा में बुधवार को तीन दिवसीय जिला स्तरीय विज्ञान मेला एवं प्रदर्शनी का आयोजन किया गया।विज्ञान मेले का उद्घाटन मुख्य अतिथि छपिया मंदिर के महंत ब्रम्हचारी स्वामी वासुदेवानंद महराज ने दीप जलाकर व मां सरस्वती की प्रतिमा पर फूलमाला अर्पित कर किया।महंत स्वामी ने कहा कि देश का विकास वैज्ञानिक क्षमता के विकास से ही संभव है।इसलिए स्कूलों में विज्ञान से जुडी प्रायोगिक गतिविधियों का समय-समय पर आयोजन करते रहना चाहिए।उन्होंने कहा कि आभा विकास संस्थान द्वारा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय भारत सरकार द्वारा किया जा रहा आयोजन सराहनीय है।उन्होंने कहा कि आज हमारा देश जिन वैज्ञानिक समस्याओं से जूझ रहा है ।

विभिन्न स्कूलों के बच्चो ने उन समस्याओं का न केवल प्रदर्शन किया बल्कि उनका समाधान भी बताया। इनके द्वारा निर्मित माडलों को देखकर ऐसा महसूस हो रहा था कि वे राष्ट्र एवं समाज की समस्याओं से भली भांति परिचित भी हैं और उनका निराकरण करने का उत्साह भी रखते हैं। छात्रों ने पाल्यूशन एन्ड सोलूशन, प्रोटॉन ऐंड न्यूट्रॉन, सीवेज ट्रीटमेंट, एलेक्ट्रिक सेविंग, सिस्टम, विंड मिल, ऑटोमेटिक स्ट्रीट लाइट, स्टिम पॉवर जनरेटर, हाइडरॉलिक क्रेन, ग्लोबल वार्मिंग, हाइड्रो मशीन इत्यादि संबंधी संयंत्र बनाए तथा उन पर विस्तृत चर्चा की गयी।
कार्यक्रम के मुख्य समन्वयक डॉ विनीता श्रीवास्तव ने कहा की प्रदर्शनी को ग्रामीण स्तर पर भी आयोजित किये जाने की जरुरत है। उन्होंने कहा की बच्चों द्वारा तैयार माडल देख कर लगता है की मै किसी बड़ी विज्ञान प्रयोगशाला में आ गई हूं ।

विद्यालय के प्रशासक घनश्याम ने कहा की बच्चों को विज्ञान के क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन का मौका मिलना चाहिए। विज्ञान का हमारे जीवन में बहुत ही महत्व है। विज्ञान से ही हमें जीवन खुशहाल बनाने का तरीका मिलता है। वरिष्ठ समाजसेवी अरविंद प्रभाकर त्रिपाठी ने कहा की बच्चों के मॉडल को देखकर इसकी बेहतरीन प्रतिभा का पता चलता है। इनको अगर बड़े पैमाने पर अवसर मिला तो ये देश की अनेक समस्याओं का हल ढूंढ सकते हैं और अनेक नवीन आविष्कार भी कर सकते हैं। कार्यक्रम में ब्लड ग्रुप की जांच, मिलावट की जांच, वजन द्वारा स्वास्थ्य निगरानी, विज्ञान के सरल प्रयोग सहित अनेको जानकारी दी गई इस अवसर पर विज्ञान संचारक भृगुनाथ त्रिपाठी, सचिन्द्र शुक्ल, जीतेन्द्र कौशल सिंह, राम मूर्ति मिश्रा , नितीश गुप्ता, डॉ राम भजन, विशाल पाण्डेय, जय प्रकाश गुप्ता, आशुतोष मिश्र, दिव्या पाण्डेय ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम में कई छात्रों को पुरस्कृत किया गया।

About Gajendra Kumar

mm

Check Also

मुख्यमंत्री ने पटना में अतिवृष्टि से हुये जलजमाव से संबंधित उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की।

मुख्यमंत्री ने पटना में अतिवृष्टि से हुये जलजमाव से संबंधित उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की पटना, …