Breaking News
Home / Recent / खगड़िया: बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री व मवेशियों का चारा सहित सात सूत्री मांग को लेकर जन अधिकार पार्टी ने नेताओं ने समाहरणालय के समक्ष किया धरना-प्रदर्शन!! युवा शक्ति के कार्यकारी जिलाध्यक्ष अभय कुमार गुड्डू ने कहा जिले में बढ़ते अपराध पर अंकुश लगाने में पुलिस के नाकामी के कारण हो रहा है अपराधियों का हौसला बुलंद

खगड़िया: बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री व मवेशियों का चारा सहित सात सूत्री मांग को लेकर जन अधिकार पार्टी ने नेताओं ने समाहरणालय के समक्ष किया धरना-प्रदर्शन!! युवा शक्ति के कार्यकारी जिलाध्यक्ष अभय कुमार गुड्डू ने कहा जिले में बढ़ते अपराध पर अंकुश लगाने में पुलिस के नाकामी के कारण हो रहा है अपराधियों का हौसला बुलंद

खगड़िया | जन अधिकार पार्टी और युवा शक्ति खगड़िया के द्वारा 26-09-2019 शुक्रवार को समाहरणालय के समक्ष बाढ़ पीड़ितों को अविलंब राहत सामग्री और मवेशियों के लिए चारा मुहैया कराने, बढ़ते अपराध पर रोक लगाने और नये मोटर कानून को वापस लेने की मांग को लेकर एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन किया गया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता युवा शक्ति के जिलाध्यक्ष चंदन कुमार सिंह तथा संचालन जन अधिकार पार्टी छात्र परिषद के जिलाध्यक्ष रौशन राणा ने किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए युवा शक्ति के जिलाध्यक्ष चंदन कुमार सिंह ने कहा कि गंगा नदी की जलधारा में बेतहाशा वृद्धि होने से जिला के दर्जनों पंचायत बाढ़ के चपेट में आ जाने से एक लाख पच्चीस हजार की आबादी का जीवन मुश्किल में है। सरकार द्वारा बाढ़ पीड़ितों के लिए समय पर भोजन भी उपलब्ध नहीं कराया जाता है।

वहीं जन अधिकार पार्टी युवा परिषद के प्रदेश महासचिव सह जिला ट्रक ऑनर संघ के जिलाध्यक्ष शिवराज यादव ने कहा कि बाढ़ के कारण मवेशियों का जीवन भी संकट से जूझ रहा है। किसान द्वारा मवेशियों के लिए पूर्व से रखा चारा बाढ़ के पानी में विलीन हो जाने से मवेशी पालकों पर बाढ़ की दोहरी मार पड़ गया है। इन्होंने जिला प्रशासन से अविलंब मवेशियों के लिए चारा उपलब्ध कराने की मांग किया।

अपने संबोधन में युवा शक्ति के कार्यकारी जिलाध्यक्ष अभय कुमार गुड्डू ने कहा कि हर तरफ अपराधियों द्वारा खुलेआम तांडव मचाया जा रहा है। दिन दहाड़े हत्या, लूट और बलात्कार जैसी जघन्य अपराधों को अपराधियों द्वारा अंजाम दिया जा रहा है। लोग अपने घरों में भी सुरक्षित नहीं रह पाता है। पीड़ितों का सुनने वाला कोई नहीं है। पुलिस अपराधियों पर नकेल कसने में विफल साबित हो चुका है। सरकार सुशासन की ढोल पीटते नहीं थकते है। दुर्भाग्य की आलम तो यह है कि पुलिस द्वारा पीड़ितों के आवेदन पर कारवाई करने में आनाकानी किया जाता है। उच्च अधिकारी को शिकायत करने पर भी किसी प्रकार की कारवाई नहीं होने पर लोग थक-हार कर घर बैठ जाता है।

अपने संबोधन में छात्र परिषद के जिलाध्यक्ष रौशन राणा, युवा शक्ति के जिला महासचिव मो. आलम राही, अधिवक्ता सेल के जिलाध्यक्ष रंजीत रंजन, SC-ST सेल के जिलाध्यक्ष किशोर दास,जाप के जिला महासचिव संजय सिंह ने सरकार से मांग किया कि अविलंब बाढ़ पीड़ितों के बीच राहत सामग्री विवरण एवं मवेशियों के लिए चारा उपलब्ध कराया जाय। लगातार बढ़ते अपराध पर अंकुश लगाया जाय, न्यू मोटर व्हीकल एक्ट (काला कानून) को अविलंब वापस लिया जाय और प्रखंड स्तर पर शिविर लगाकर लोगों को ड्राइविंग लाइसेंस निर्गत करवाया जाय, वरना जन अधिकार पार्टी और युवा शक्ति उक्त मांगों के समर्थन में सरकार के खिलाफ आर-पार की लड़ाई लड़ने को बाध्य होगी।

कार्यक्रम के बाद जन अधिकार पार्टी के नेताओं ने जिला पदाधिकारी खगड़िया को अपने मांगों के समर्थन में मांग पत्र सौंपकर अविलंब सरकार तक पहुंचाने की मांग किया। इस कार्यक्रम में मनीष कुमार उर्फ नाटा सिंह, श्रीकांत पौद्दार, नंदन कुमार, राजा कुमार, निखिल कुमार, अमृत राज, रतन कुमार सिंह, धर्मेन्द्र पोद्दार, संजीत चौधरी, सुशांत कुशवाहा, अवधेश कुमार, पवन दास सहित सैकड़ों जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ता मौजूद थे।

About D K NIRALA

mm

Check Also

मुख्यमंत्री ने पटना में अतिवृष्टि से हुये जलजमाव से संबंधित उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की।

मुख्यमंत्री ने पटना में अतिवृष्टि से हुये जलजमाव से संबंधित उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की पटना, …